उमेश पाल हत्याकांड:-अखिलेश यादव के साथ सदाकत खान की फोटो वायरल।

उमेश पाल हत्याकांड:-अखिलेश यादव के साथ सदाकत खान की फोटो वायरल।

 उमेश पाल हत्याकांड के साजिशकर्ता सदाकत खान की तस्वीरें समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय💛 अध्यक्ष अखिलेश यादव के साथ वायरल हो रही है। इन तस्वीरों से उत्तर प्रदेश की सियासत गरमा गई है।

कैसे घटना को अंजाम दिया गया:-

                   सदाकत अली खान मुस्लिम बोर्डिंग में रहकर नेतागिरी करता था। वह तमाम अन्य गतिविधियों में संलिप्त रहता था। उमेश पाल की हत्या की साजिश मुस्लिम बोर्डिंग हॉस्टल के कमरा नंबर 36 में रची गई। इस हत्याकांड में शूटर गुलाम ने उसके साथियों के साथ मिलकर रचा। सदाकत को एसटीएफ ने गिरफ्तार कर लिया। सदाकत ने भागने की कोशिश की परंतु गाड़ी का एक्सीडेंट हो गया। सदाकत के घायल होने पर उसे अस्पताल में दाखिल करवाया गया। इसी बीच पूछताछ जारी रहेगी। सदाकत से पूछताछ में षड्यंत्र का पूरा किस्सा💚 उजागर हुआ है। मामले में पुलिस आयुक्त रमित शर्मा ने जानकारी दी सदाकत गाजीपुर के गहमर के बारा का निवासी है। उसके द्वारा प्रयाग राज में रहकर एलएलबी की डिग्री ली गई। उसने हाईकोर्ट से वकालत की। उसके बाद वह विश्वविद्यालय परिषद में रहकर स्टूडेंट पॉलिटिक्स करता था। सदाकत द्वारा पूर्व विधायक के साथ पइंटरनेट र फोटो डाली गई। उसका मिलना जुलना मेहंदौरी के गुलाम से भी हुआ। गुलाम के रिश्ते भी पूर्व विधायक के साथ में थे। गुलाम अक्सर मुस्लिम हॉस्टल में आया जाया करता था। पुलिस आयुक्त ने जो जानकारी दी उनके अनुसार गुलाम ने सदाकत के कमरे में उमेश पाल हत्याकांड की प्लानिंग तैयार की। उमेश पाल हत्याकांड में पुलिस सरगर्मी से आरोपियों की तलाश कर रही है और इसी बीच पीडीए भी आरोपियों की अवैध संपत्ति की जांच में जुटा है।

अखिलेश यादव के साथ सदाकत की तस्वीरें:

    स्टूडेंट पॉलिटिक्स से जुड़े नेता टाइप के लड़कों की तस्वीरें अक्सर राजनीतिक पार्टी के नेताओं के साथ वायरल होती रहती है इसी बीच समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के साथ उमेश पाल हत्याकांड के मास्टरमाइंड सदाकत खान की तस्वीरें वायरल हो गई। राजनीति गरमा गर्मी होना तय है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ विधानसभा में समाजवादी पार्टी के ऊपर माफियाओं को पोषित करने का आरोप लगा चुके हैं। योगी जी ने अतीक अहमद को सांसद समाजवादी पार्टी ने ही बनाया था यह कहते हुए चोरी और सीनाजोरी का आरोप लगाया था। और इन तस्वीरों के साथ योगी जी के बात को वजन मिला। योगी जी ने मिट्टी में मिला देने की बात कही थी। जिसमें अखिलेश ने मिट्टी में मिला देने की बात पर एतराज किया था। अब यह तस्वीरें क्या रंग लाएगी। यह आने वाला वक्त बताएगा।

                                 जय हिंद।😍

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Featured post

नशे की गिरफ्त में युवा बन रहे हैं अपराधी