मुजफ्फरनगर के बाद आज हरियाणा के करनाल में महापंचायत का आगाज़ !! After Muzaffarnagar, Mahapanchayat started in Karnal, Haryana today

हरियाणा के करनाल में आज किसानो की महापंचायात का सैलाब 

आप लोगो को बता दे की यह पंचायत तीन कृषि कानूनों को वापस लेने के लिए हो रही मुजफ्फरनगर में भी इसी विषय को लेकर हुई थी आप लोग यह भी जानते होंगे की हरियाणा के करनाल में तीन कृषि कानूनों को वापस लेने के लिए किसान आन्दोलन चल रहा था जिसमे हाल ही में किसनो परलाठीचार्ज हुआ जिसमे कुछ किसानो की म्रत्यु हो गई जिससे करनाल में महपंचायत का आयोजन किसानो ने कर दिया .

After Muzaffarnagar, Mahapanchayat started in Karnal, Haryana today
After Muzaffarnagar, Mahapanchayat started in Karnal, Haryana today

योगेन्द्र यादव और राकेश टिकैत हिरासत में 
 
आप लोगो को बता की हरियाणा के करनाल में हो रही किसानो की महापंचायत में किसानो के रास्ट्रीय प्रव्क्ता राकेश टिकैत और योगेन्द्र यादव को हरियाणा पुलिस ने अपनी हिरासत में ले लिया था जिसके बाद गुस्साए किसानो ने बरिकेट तोड़ के पुलिस पर हमला किया किसानो का बेरिकेटो को तोड़कर आगे बढना यह सब अधिकारियो ने देखा तो उनको तुरंत राकेश टिकैत और योगेन्द्र यादव हो हिरासत से रिहा करना पड़ा .

लघु सचिवालय में किसानो की बैठक 

बताया जा रहा है की किसानो की  15 सदस्यीय कमेटी को जिला मुख्यालय ( लघु सचिवालय ) बुलाया गया | जहाँ डीसी करनाल निशांत कुमार यादव और एसपी गंगाराम पुनिया ने किसान नेताओ से बात की जिसमे कर्न्नल डीसी नेड कहा आप लोग लघु सचिवालय का घेराव करना बंद करे इस बात किसान नेताओ ने कहा की वः लोग लाघुसचिवलय कुच नही करेंगे पर सरकार हमारी मांगे स्वीकार करे इसी को लेके दो घंटे तक बातचीत हुई पर कोई हल नही हुआ .

किसानो की मुख्या मांग 

किसानों ने जटाव्  गांव के मृतक किसान सुशील काजल को 25 लाख  का मुआवजा और परिवार में किसी को सरकारी नौकरी और घायल किसानों को दो दो लाख  मुआवजा देने की मांग की है के इसके अलावा  एस डी एम आयुष  सिन्हा  के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है किसानों ने कहा अगर हमारी मांगे पूरी की जाएंगी तो हम लोग  सचिवालय का घेराव करना बंद कर देंगे अन्यथा किसान ऐसे ही अपनी मांगों पर टिके रहेंगे . 

ऐसी और भी अपडेट के लिए हमारी वेबसाइट SSSNEWS.IN पर जाएं और अधिक जानकारी के लिए हमारे चैनल SSSNEWSHINDI पर विजिट करें !!
 


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Featured post

बंदी सिंहगो की रिहाई पर मोहाली में मोर्चा ? (bandi siinghago ki rihaayi par maholi me morch)