Saved the Sikh daughter in Kashmir and brought her back and also got her married !! कश्मीर में सिख बेटी को बचा के वापस लाए और उसकी शादी भी रचाई !!

 कश्मीर में सिख बेटी को बचा के वापस लाए और उसकी शादी भी रचाई

कश्मीर में एक सिख समुदाय की लड़की को 46 साल के अधेड़ लड़के से बचाकर वापस लाये और उस बेटी का सिख युवक से उसकी शादी  भी कराई read more.... 

saved-sikh-daughter-in-kashmir-and

यह मामला जम्मू कश्मीर का है जहां पर सिख समुदाय की लड़कियों को बंदूक की नोक पर उन को अगवा कर लिया और उनका धर्म परिवर्तन कराया और अधेड़ उम्र के युवक के साथ करवाई शादी !!

बताया जा रहा है कि जो दो सिख समुदाय की लड़कियों को अगवा किया गया था उन लड़कियों में से एक लड़की वापस लौटआई है इस पर जानकारी के मुताबिक लड़की कश्मीर के पुलवामा जिले में रहने वाली है आपको बता दें कि इस लड़की की सोमवार को शादी मार्ग के गुरुद्वारे में शादी करा दी गई है !!

आपको बता दें कि कश्मीर में सिख संगठनों ने लड़की के अपहरण करने और जबरन धर्म परिवर्तन कराने का आरोप लगाया था ! आपको बता दें कि उस लड़की की शादी सुखजीत नामक लड़के से करा दी गई है और शादी के बाद दोनों दिल्ली के लिए रवाना हो गए हैं !!

आपको बता दें कि घटना की जानकारी होते ही श्रीनगर में सिखो की बहुत कम संख्या होने के बावजूद भी समस्त सिख समुदाय से स्त्रियां, बच्चे और बुजुर्ग सड़क पर उतर आए और कोर्ट परिसर का घेराव किया दूसरी ओर पंजाब हरियाणा और दिल्ली के बुजुर्ग सिख और सिख नेताओं ने श्रीनगर पहुंचने में देर नहीं कि वह भी वही पहुंच गए और फिर पहले घेराव धरना प्रदर्शन किया और पूरे देश को हिला दिया फिर सरकार को भी अल्टीमेटम दे दिया !!

आपको बता दें कि प्रशासन के सहयोग से एक धर्म आंतरिक युवती का सिख समुदाय में विवाह एक अपरिचित सिख युवक से करा देना कोई मामूली बात नहीं थी फिर भी सिख समुदाय ने यह करके दिखाया हम सिखो का शुक्रिया अदा करते हैं कि उन्होंने इतना बड़ा काम करके दिखाया !!

आप को बता दे अगर ऐसा किसी हिदू युवती के साथ होता तो हिन्दू माता पिता कुछ दिन रो - धो कर हर मन कर बैठ जाते और कोई सामाजिक धरना प्रदर्शन का या कोई धमकी या प्रतिरोध का प्रशन ही नहीं उठता !!

आप को बता दे की अनेक हिन्दू कहने लगते है की लड़की 18 वर्ष की हो चुकी है और वो बलिक हो चुकी है उसकी शादी करा देनी चाहिए अब कुछ लड़की के बारे में सोचना संभव नहीं है !!

आप को बता दे की यह घटना जम्मू कश्मीर के पुलवामा जिले की है जहा जहा सिख बेतिओ को बन्दुक की नोक पे अगवा कर के उनका धर्म परिवर्तन कराया गया था और उनकी शादी एक अधेड़ उम्र दार लड़के के साथ करवाई गयी !!पर शिक्खो ने अपनी बेटी वापस लेन के लिए जी जान लगा दी और बेटियों को वापस ले आये !

शुक्रिया हमारे शिक्खो एक बार फिर, एक बार फिर यह बताने के लिए की ''जिन्दा कौम इन्तजार नहीं करती''

तो आपका इस विषय में क्या कहना है आप हमें कमेंट करके भी बता सकते हैं और अधिक जानकारी के लिए हमारे चैनल SSSNEWSHINDI पर भी जा सकते हैं  !!

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Featured post

 पठान मूवी को मिली पहले दिन अच्छी ओपनिंग , हिंदु संगठनों का विरोध भी काम नहीं आता।