पठान मूवी को मिली पहले दिन अच्छी ओपनिंग , हिंदु संगठनों का विरोध भी काम नहीं आता।


 पठान मूवी को मिली पहले दिन अच्छी ओपनिंग , हिंदु संगठनों का विरोध भी काम नहीं आता। 


किसी मुश्लिम कलाकार की फिल्म पर हम तबाह मचाने वाले कट्टर हिन्दू संगठनो का विरोध भी पठान मूवी फ़ैल नहीं केर पाया। और उल्टा लग रहा है।💛 फिल्म को प्रचार मिलगया और जो लोग अंधभगतो की विचारधारा से  सहमत नहीं है। वह लोग फिल्म के हक़ में प्रचार है। अलग -अलग विचारधारा में बटा हमारा समाज अपनी -अपनी ज़िद  में लाभ व्यपारियों को ही करवा रहे है। क्योकि 💜पहले मारकेटिंग हो रही थी।  हिन्दुओ के हक़ में मोदी जी  कारण लाभ अडानी और अंबानी कमा रहे थे। अब के बागेश्वर धाम के मुद्दे में पठान मूवी बातकाट का मुद्दा दब गया। परन्तु फिल्म के प्रसंसक जो थे। उन्हें याद था और पहले दिन ही फिल्म को अच्छी शुरुवात मिल गई। वैसे फिल्म है। भी देशभग्क्ति के नाम तरीका वही पुराना जासूस और 151 पाकिस्तानी जासूस एक भारत से नाराज पुराना जासूस विलेन  के रूप में और दोनों में टक्कर पहले भी।                                                                                             
इसी विषय पर कोई फिल्मे बन चुकी  है। परन्तु इंटर टेन्मेंट के चक्कर में लोग  हर मूवी देख ही लेते है।👉और इसमें तो हमारे देश की राजनीति हो रही थी हिंदु संगठन लगे थे कि फिल्म नहीं देखने यहाँ  तक कहाँ गया था। फिल्म ओपरेटर में लगाने नहीं देंगे। परन्तु लोगो ने इस बार इस विचारधारा को निकार दिया। एक विशेष वर्ग से नफरत की विचारधारा वैसे धर्म तो प्यार  मैसेज देते है। परन्तु धर्म के नाम प नफ़रत की राजनीति ये सिर्फ और सिर्फ व्ययेपार है। 

अभी कुछ दिन पहले अमीर खान  की मूवी फ्लाप  हुई कारण बताया जा रहा था। की हिन्दू संगठनों ने विरोध किया इस कारण फ्लाप हुई।😍 जबकि यह फिल्म एक विदेशी मूवी की रोमांस थी  जो भारतीय को पसन्द नहीं आई और कही न कही धर्मिक राजनीति भी फिल्म पर हावी हुई। फिल्म फ़्लाप होने  के बाद आमिर खान विष्णु देवी मंदिर में दर्शन करने गए धर्म गुरुआने जिनमे धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री बागेश्वर धाम बाला जी थे काफी प्रचार  किया की  एक फ़्लिम फ़ैल 💚तो मंदिर में माथा  टेका  जब कि हमारे देश में लोग जाति से कोई भी हो सम्मान हेर धर्म को दिया जाता है। और कटटरता भी एक हद  तक हर धर्म में  है। उसका मतलब  ये नहीं है। कि हम आपसी भाईचारे को तोड़ दे। समाज  में दरार उाल दे। ये गलत है।                                                                                                                                                                पठान फिल्म के हिट होने पर धर्म के नाम की राजनीति भी असफल हुई है। बाकी आप लोग  आपने कमेंट करें। ..                                                                                                                                                                             
                                                   जय। हिन्द। जय भारत। 🙏🙏

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Featured post

सुप्रीम कोर्ट ने मनीष सिसोदिया को राहत देने से मना किया।