जाने तनखैया क्या होता है और किन पर तनखैया लागु हुआ था !! Nanakmta :Jaane tanakhaiya kya hota hai !!

जाने तनखैया क्या होता है और किन पर तनखैया लागु हुआ था 

Nanakmta :Jaane tanakhaiya kya hota hai !!

सिख पंथके अन्दर बाबा तरसेम सिंह जो की कार सेवा करते थे नानकमता गुरूद्वारे के अंदर खटीमें के पास उनको कल तनखैया घोसित किया गया.

nanakmta-jaane-tanakhaiya-kya-hota-hai
 Nanakmta :Jaane tanakhaiya kya hota hai !!

 Nanakmta :Jaane tanakhaiya kya hota hai !!

आपको बता दे कल एक घटना हुई सिख पंथके अन्दर बाबा तरसेम सिंह जो की कार सेवा करते थे नानकमता गुरूद्वारे के अंदर खटीमें के पास उनको कल तनखैया घोसित किया गया और उनकेसाथ सेवा सिंह जो की गुरुद्वारा प्रबंधक कमिटी के प्रधान थे और इसके अलावा धन्ना सिंघ जो जनरल सत्ततर थे इसके अलावा जो आदमी पेस हुए थे उनमे से जसविन्दर सिंह जो की नानकमता,में मीत प्रधान थे इन सबको तनखा लगाई गई जिनमे से जसविंदर मीत प्रधान को डायरेक्शन दी गई की उन्होंने अपनी दाड़ी को कलर किया हे इस लिए वह पांच प्यारो के सामने पेस हो और ज्ञानी हरप्रीत सिंह जथेदार ने उन्होंने ने तनखैया घोषित करके सज़ा सुनाई और वो अकाल तख़्त के जथेदार हे 

अब हम आपको बता दे कि तनखैय्या क्या होता हे दोस्तों सिख धर्म के अनुसार जो भी अमृतधारी सिख , सिख धर्म अनुसासन के पालन के विरुद्ध कोई कार्य करता हे या फिर कोई ऐसी घटना जो सिख धर्म के खिलाफ हो जो की सिख धर्म को भड़का रही हो जो व्यक्ति ऐसे कार्यकर्ता हे उसे तनखैया घोसित किया जाता हे !! 

कोई भी सिख जिसने सिख अनुसासन के पालन मर कोई चूक की हे ,उसे पास के सिख मण्डली से संपर्क करना चाहिए और मण्डली के सामने खड़े होकर अपनी चूक का स्वीकृत करना चाहिए उसके बाद मण्डली को गुरु ग्रन्थ साहिब की पवित्र उपसिथति में ,अपने में से पांच प्रिय लोगो का चुनाव करना चाहिए ,जो याचिका की गलती पर विचार करे और इसके लिए दंड का प्रस्ताव करे !!  Nanakmta :Jaane tanakhaiya kya hota hai !!

सिख धर्म में एक प्रकार की सज़ा होती हे जिसे सिख धर्म में तनखैया के नाम से जाना जाता हे !! 
तनखैया नाम इंडियन गवर्नमेंट केंद्र या सज़ा जो भी कहे इसे ये काफी लम्बे समय से चलता आ रहा हे !!

सबसे पहले अगर कोई तनखैया घोषित हुये वो थे महाराजा रंजित सिंह ,महाराजा रंजित सिंह को इस लिए तनखैया घोषित किया क्योकि उन्होंने ने एक मुस्लिम लडकी के साथ विवाह रचाया था !! सिख धर्म के पंथ के जथेदारो ने महाराज रंजित सिंह को तनखैया घोषित किया था, और महारजा रंजित सिंह ने भी पंथ के सामने नत मस्तक होके अपनी गलती की स्वीकारी और कहा की में पंथ के खिलाफ हु आप लोग जो भी सज़ा मुझे देंगे मुझे मंजूर हे !!

महाराजा रंजित सिंह के अलवा भी कुछ सक्स हे जिन पर तनखैया घोषित हे उनमे से एक नाम बूटा सिंह जोकि गृहमंत्री थे इंडियन गवरमेंट के अंदर काँग्रेस की और से, इन्होने भी सजा भुगती और इनके अलावा सरदार सर्जित सिंह बरनाला ये EX मुख्यमंत्री थे पंजाब के अकालियो के बड़े नेता थे इनको भी तनखैया घोषित किया गया और ज्ञानी जेल सिंह ये राष्ट्रपति थे ,1984 में जो गुरुद्वारा पर अटेक हुआ थे तब ज्ञानी जेल सिंह ही राष्ट्रपति थे और इनपर भी तनखैया सजा लागु हुई ऐसे ही बहुत नाम हे !! 

ऐसी और भी अपडेट के लिए हमारी वेबसाइट SSSNEWS.IN पर जाएं और अधिक जानकारी के लिए हमारे चैनल SSSNEWSHINDI पर विजिट करें !!


 Nanakmta :Jaane tanakhaiya kya hota hai !!

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Featured post

 पठान मूवी को मिली पहले दिन अच्छी ओपनिंग , हिंदु संगठनों का विरोध भी काम नहीं आता।